UN ने जारी की 139 PAK आतंकवादियों की लिस्ट

वॉशिंगटन। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने आतंकवादियों और आतंकी संगठनों की संयुक्त लिस्ट जारी की है। इसमें 139 नाम पाकिस्तान से हैं। मंगलवार को जारी इस नई लिस्ट में मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड हाफिज सईद और भारत में कई मामलों को लेकर वांछित अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम का नाम भी शामिल किया गया है। डॉन न्यूज के मुताबिक, लिस्ट में उन सभी के नाम हैं जो पाकिस्तान में रह रहे हैं, वहां से संचालित हो रहे हैं या फिर ऐसे संगठनों से जुड़े हैं जो आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए पाकिस्तानी धरती का इस्तेमाल करते हैं। सूची में पहला नाम अयमान अल-जवाहिरी का है, जिसे लश्कर-ए-तैयबा के सरगना ओसामा बिन लादेन का उत्तराधिकारी माना जाता है।

संयुक्त राष्ट्र का दावा है कि जवाहिरी अभी भी अफगानिस्तान-पाकिस्तान सीमा के पास कहीं रह रहा है। लिस्ट में जवाहिरी के कुछ सहयोगियों का भी नाम है, जो उसके साथ ही छिपे हैं। सूची में एक दर्जन से ज्यादा उन आतंकियों के नाम हैं जिन्हें पाकिस्तान में गिरफ्तार कर अमेरिका को सौंपा जा चुका है। इस लिस्ट में अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम कासकर का भी नाम है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के मुताबिक, दाऊद के पास कई नामों से पाकिस्तानी पासपोर्ट हैं जो रावलपिंडी और कराची से जारी किए गए हैं। यूएन का दावा है कि दाऊद का कराची के नूराबाद इलाके के पहाड़ी क्षेत्र में राजसी ठाट-बाट वाला बंगला है।

लश्कर सरगना हाफिज सईद का नाम लिस्ट में ऐसे आतंकी के तौर पर शामिल किया गया है जिसे कई आतंकवादी वारदातों में शामिल होने की वजह से इंटरपोल तलाश रहा है। लश्कर के मीडिया प्रभारी और हाफिज के सहयोगी अब्दुल सलाम और जफर इकबाल को भी सूची में डाला गया है। हाफिज की तरह ही इंटरपोल को इन सबकी तलाश है। पाकिस्तान स्थित जिन आतंकी संगठनों को इस सूची में शामिल किया गया है उनमें अल रशीद ट्रस्ट, हरकतुल मुजाहिदीन, इस्लामिक मूवमेंट ऑफ उज्बेकिस्तान, वफा मानवीय संगठन, जैश-ए-मोहम्मद, रबिता ट्रस्ट, लश्क-ए-झांगवी, तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान जैसे कई संगठन हैं। इससे पहले अमेरिका ने लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) पर शिकंजा कसने के लिए उसकी राजनीतिक पार्टी मिल्ली मुस्लिम लीग (एमएमएल) और सात नेताओं के साथ ही एक अन्य मोर्चे के संगठन को आतंकवादी समूहों की सूची में शामिल कर लिया है।

विदेश विभाग ने कहा कि दूसरा एलईटी मोर्चा तहरीक-ए-आजादी-ए-कश्मीर (टीएजेके) को भी आतकंवादी की सूची में शामिल किया गया है। राजस्व विभाग ने कहा कि एमएमएल अध्यक्ष सैफुल्लाह खालिद, महासचिव फय्याज अहमद और पांच अन्य को भी लक्षित किया गया है। राजस्व विभाग की उपसचिव सिगल मंडेलकर ने चेतावनी देते हुए कहा कि मिल्ली मुस्लिम लीग के साथ काम करने वालों और उन्हें वित्तीय सहायता प्रदान करने वालों को दोबारा विचार करना चाहिए कि ऐसा करना अमेरिकी प्रतिबंधों के खिलाफ हो सकता है।

उन्होंने कहा, राजस्व विभाग मिल्ली मुस्लिम लीग और सात वैश्विक आतंकवादियों के एक समूह को लक्षित कर रही है जो पाकिस्तान की राजनीतिक प्रक्रिया को कमजोर करने के लश्कर-ए-तैयबा के प्रयासों में शामिल हैं। आपको बता दें कि एलईटी मुंबई में वर्ष 2008 में हुए हमलों का जिम्मेदार है, जिसमें छह अमेरिकी सहित 166 लोग मारे गए थे।

About न्यूज़ ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया

News Trust of India न्यूज़ ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ăn dặm kiểu NhậtResponsive WordPress Themenhà cấp 4 nông thônthời trang trẻ emgiày cao gótshop giày nữdownload wordpress pluginsmẫu biệt thự đẹpepichouseáo sơ mi nữhouse beautiful