जब्त हवाला की रकम पुलिसकर्मियों ने हड़प ली

महाराष्ट्र के नागपुर की नंदनवन पुलिस स्टेशन के एक SI सहित चार पुलिसकर्मियों के खिलाफ जब्त की गई हवाला की रकम का कुछ हिस्सा डकार जाने के लिए केस दर्ज हुआ है. यह रकम हवाला के जरिए रायपुर से मुंबई भेजी जा रही थी. आरोपी पुलिस कर्मियों के खिलाफ लूटपाट और अमानत में खयानत का मामला दर्ज किया गया है और उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है.

नागपुर क्राइम ब्रांच के डीसीपी के मुताबिक जल्द ही एक टीम रायपुर रवाना की जा रही है. वो रायपुर के कारोबारियों और कुछ अन्य संदिग्धों से पूछताछ करेगी. पुलिसकर्मियों के इस कारनामे का खुलासा तब हुआ, जब जब्त हुई रकम के असली मालिक रकम पर दावा करने पुलिस थाने पहुंच गए.दरअसल शनिवार को पुलिस ने हवाला की रकम ले जा रहे एक वाहन को छापेमारी कर अपने कब्जे में ले लिया और कार के अंदर गुप्त लॉकर में छिपाकर ले जाई जा रही रकम बरामद कर ली. लेकिन नागपुर के नंदनवन पुलिस स्टेशन के कर्मियों ने बरामद की गई हवाला की रकम का एक हिस्सा आपस में ही बांटने की योजना बना डाली.

पुलिस कर्मियों ने कार में से करीब 6 करोड़ रुपये जब्त किए, लेकिन उसमें से 2 करोड़ 54 लाख 92 हजार 800 रुपये आपस में ही बांट लिए और शेष कैश की बरामदगी दिखा दी. पुलिसकर्मियों ने हवाला की रकम ले जा रहे तीन संदिग्धों राजेश वामनराव, नवनीत और नरेंद्र जैन को हिरासत में भी ले लिया. पुलिस कर्मियों की यह चोरी पकड़ी भी नहीं जाती. लेकिन जब्त की गई राशि के असली मालिकों खंजन जगदीशभाई ठक्कर और अली मोहम्मद हुसैन अली जिवानी ने पुलिस में रिपोर्ट लिखाई कि कार में से बरामद कुल 5 करोड़ 73 लाख रुपये उन्हीं के हैं. उन्होंने पूरी राशि के दस्तावेज भी पुलिस को सौंपे.

बताया जाता है कि शिकायत कर्ताओं ने महज 6 महीने पहले मैपल ज्वैलर्स प्राइवेट लिमिटेड नाम से एक कंपनी खोली. उन्होंने यह कैश रकम हवाला कारोबार से जुड़े राजेश वामनराव, नवनीत और नरेंद्र जैन को दी थी. उधर प्राथमिक कार्रवाई के बाद नागपुर पुलिस ने इस मामले में रायपुर से रकम लाने वाले तीनों आरोपियों को जब्त रकम के साथ आयकर विभाग और ईडी अधिकारियों के हवाले कर दिया है.

दिल्ली: पुलिस PCR वैन की टक्कर में 2 छात्रों की मौत

दिल्ली में खुद पुलिस वाहन से बड़ा हादसा होने की खबर है. शनिवार की रात करीब 11.30 बजे दिल्ली पुलिस की एक पीसीआर वैन एक बाइक से जा टकराई, जिसमें बाइक सवार दोनों छात्रों की मौत हो गई. हादसा दिल्ली और हरियाणा के सिंधू बार्डर के पास हुआ. पुलिस ने मृत छात्रों की पहचान अमरजीत और नरेंद्र के तौर पर की है. दोनों छात्र दिल्ली में हॉस्टल में रहते थे और एसएससी परीक्षा की तैयारी कर रहे थे. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि अभी इस बात का खुलासा नहीं हुआ है कि गलती किसकी है और अभी इसकी जांच की जा रही है.

वहीं मृत छात्रों के घरवालों का कहना है कि गलती पुलिस के पीसीआर वैन की थी. जिस लाल बत्ती के पास ये हादसा हुआ है पुलिस उसके आसपास के सीसीटीवी फुटेज भी खंगाल रही है ताकि ये पता लग सके कि बाइक की रफ्तार ज्यादा थी या फिर पीसीआर वैन तेज रफ्तार में थी. जानकारी के मुताबिक, घटना के वक्त दोनों छात्र मुरथल पराठे खाने जा रहे थे. प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि दोनों छात्र उछलकर दूर जा गिरे और बुरी तरह से घायल हो गए. पुलिस वालों ने उसी पीसीआर वैन में डाल कर दोनों को तुरंत अस्पताल पहुंचाया, लेकिन अस्पताल पहुंचने से पहले ही दोनों की मौत हो गई.

About न्यूज़ ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया

News Trust of India न्यूज़ ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ăn dặm kiểu NhậtResponsive WordPress Themenhà cấp 4 nông thônthời trang trẻ emgiày cao gótshop giày nữdownload wordpress pluginsmẫu biệt thự đẹpepichouseáo sơ mi nữhouse beautiful