MNREGA wages not get from one year to labour in purola

पुरोला में एक साल से नहीं मिली है मनरेगा की मजदूरी

पुरोला : मोरी ब्लॉक के नानाई, सांद्रा व हल्टाडी समेत कई गांव के मजदूरों को एक साल से मनरेगा की मजदूरी नहीं मिली है। इससे ग्रामीण ब्लॉक कार्यालय के चक्कर काटने को मजबूर हैैं। ग्रामीणों ने जिलाधिकारी को शिकायती पत्र भेज कर शीघ्र भुगतान की मांग की। वहीं क्षेत्र के पर्वतीय जनसेवा संगठन ने मामले को लेकर आंदोलन की चेतावनी दी है।

संगठन संरक्षक सोवेंद्र सिंह ने बताया कि फत्तेपर्वत पट्टी के हल्टाडी गांव के श्रवण सिंह, सुलोचना देवी, नरेंद्र सिंह, किसन सिंह समेत दर्जन भर मजदूरों ने जून 2017 में गांव के चुला नामे तोक में मनरेगा के तहत जल संरक्षण व पेयजल लाइन निर्माण में 36-36 दिन मजदूरी का कार्य किया। मनरेगा सहायक ने एक सप्ताह में ग्रामीण बैंक नैटवाड खाते में मजदूरी डालने की बात कही पर एक साल बाद भी मजदूरी बैंक खातों में नहीं है।

इसी प्रकार नानाई गांव के कल्लू ने 2017 में मनरेगा तहत शौचालय निर्माण शुरू किया लेकिन आधे निर्माण के बाद भी जब खाते में पैसा नहीं आए तो काम बंद करना पड़ा। सांद्रा गांव के सरदार सिंह को मनरेगा के तहत गोशाला निर्माण कराए एक साल हो गया। 2017 में पहली किस्त भी आई किंतु आज तक दूसरी किस्त नहीं आई। मजदूरों का कहना है कि मनरेगा कार्य में मजदूरी किए एक-एक साल तक मजदूरी नहीं मिली। जिससे परिवार के समक्ष आर्थिक संकट गहरा गया है।

जन सेवा संगठन ने बीडीओ को एक माह में मजदूरी भुगतान न होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है। दूसरी ओर बीडीओ डीडी डीमरी ने बताया कि विभाग ने मजदूरी भुगतान की सूची बैंक को भेज दी है। लेकिन सरकार से मनरेगा बजट में विलंब के कारण खातों में पैसा नहीं पहुंच पाया है।

About News Trust of India

News Trust of India न्यूज़ ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!

ăn dặm kiểu NhậtResponsive WordPress Themenhà cấp 4 nông thônthời trang trẻ emgiày cao gótshop giày nữdownload wordpress pluginsmẫu biệt thự đẹpepichouseáo sơ mi nữhouse beautiful