Templates by BIGtheme NET

भ्रष्टाचार को जड़ से खत्म करने की शुरूआत- त्रिवेंद्र रावत

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने शनिवार को  द्वाराहाट महोत्सव में प्रतिभाग करते हुए कहा कि राज्य में संस्थागत भ्रष्टाचार को जड़ से खत्म करने की शुरूआत कर दी गयी है, इसमें आम जन सहभागिता भी जरूरी है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इस तरह के कार्यक्रमों से जहाॅ एक ओर विलुप्त हो रही सांस्कृतिक परम्पराओं को बढ़ावा मिलता वहीं दूसरी ओर अन्य जगह की भी संस्कृति का भी आदान-प्रदान होता है।

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र ने द्वाराहाट महोत्सव के लिए 05 लाख रूपये देने की घोषणा करने के साथ ही विकास खण्ड द्वाराहाट के क्षेत्र पंचायत कार्यालय (बी.डी.सी.हाॅल) के लिए फर्नीचर की स्वीकृति, द्वाराहाट नगर पंचायत क्षेत्र के अन्तर्गत टैक्सी स्टैण्ड का निर्माण किये जाने की घोषणा की। इसके साथ ही द्वाराहाट में छाना भेंट मिनी स्टेडियम का निर्माण, बिन्ता में मिनी स्टेडियम का निर्माण, चैखुटिया को नगर पंचायत बनाये जाने, मनसा देवी मंदिर का सौन्दर्यीकरण, ग्राम चितैली चैखुटिया में पेयजल योजना का निर्माण, विकास खण्ड द्वाराहाट मे कपड़ा ग्राम समूह पेयजल पम्पिंग योजना का निर्माण, द्वाराहाट के कामा गांव में स्थित गगास नदी पर 42 मीटर स्पान स्टील गर्डर पैदल सेतु की पुनस्र्थापना एवं सुरक्षात्मक कार्य की स्वीकृति प्रदान किये जाने की घोषणा की। उन्होंने द्वाराहाट के अन्तर्गत ग्राम सभा ईडा में अनुसूचित जाति बाहुल्य क्षेत्र जमीनीपार से सेल्टा बाखली चैधार तक मोटर मार्ग का नव निर्माण कार्य की स्वीकृति प्रदान किये जाने, विकास खण्ड चैखुटिया के अन्तर्गत तड़ागताल नदनाड झूला पुल का निर्माण, चैखुटिया में उडलीखान से आगर मनराल तक मोटर मार्ग का नव निर्माण, चैखुटिया भटाकोट से झला को रामगंगा नदी पर झूला पुल के निर्माण की भी घोषणा की। उन्होंने कहा कि चैखुटिया में हवाई पट्टी के निमार्ण हेतु प्रारम्भिक कार्यवाही को गति दी जा रही है।

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र ने इस अवसर पर 4520.06 लाख रूपये की विकास योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया। जिनमें 4434.52 लाख रू0 की योजनाओं का शिलान्यास एवं 85.54 लाख रू0 लागत की योजनाओं का लोकार्पण किया गया। जिन योजनाओं का लोकार्पण किया गया उसमें विधानसभा क्षेत्र द्वाराहाट के राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान के अन्तर्गत राजकीय कन्या इन्टर कालेज द्वाराहाट के मुख्य भवन का निर्माण जिसकी लागत 49.49 लाख रू0, राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान के अन्तर्गत राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कुमाल्टा के प्रयोगशाला कक्ष एवं शौचालय का निर्माण लागत 14.05 लाख रू0, राजकीय इण्टर बटुलिया में 02 कक्षा कक्ष का निर्माण लागत 22.00 लाख रू0 है।

इसी तरह जिन योजनाओं का शिलान्यास किया गया उनमें स्किना पुल तिपौला-खल्ला मोटर मार्ग निर्माण लागत 306.30 लाख रू0, छतगुल्ला बैण्ड से तल्ली कहाली मोटर मार्ग निर्माण लागत 131.98 लाख रू0, दुधोलिया बिष्ट से सुनगड़ी मोटर मार्ग का निर्माण 436.32 लाख रू0, गजार से क्वारली तल्ली मोटर मार्ग का निर्माण 480.26 लाख रू0, जालली से मासी मोटर मार्ग का निर्माण लागत 404.14 लाख रू0, मन्याचैना से भन्टी मोटर मार्ग का निर्माण 627.33 लाख रू0, जालली से सनणें मोटर मार्ग का निर्माण 621.09 लाख रू0, बग्वालीपोखर से मिल्टा मोटर मार्ग का निर्माण 355.28 लाख रू0, ओडियार 31 के किमी0 30 से जमीनीवार मोटर मार्ग का निर्माण 173.78 लाख रू0, रामपुर से टटलगाॅव मोटर मार्ग का निर्माण लागत 152.26 लाख रू0, मासी जालली से ऊॅचा वाहन मोटर मार्ग निर्माण स्टैज 02 लागत 218.59 लाख रू0, उदालीखान से मिल्टा गाॅव मोटर मार्ग निर्माण स्टैज 02 लागत 333.24 लाख रू0 यह कार्य प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना द्वाराहाट के द्वारा किये जायेंगे। रामपुर कुनीगाड़ मोटर मार्ग में बिजरानी से अनुसूचित जाति बस्ती सिमलखेत तक ग्रामीण मोटर मार्ग का निर्माण लागत 193.95 लाख रू0 है, यह कार्य ग्रामीण सड़कें एवं ड्रेनेज निर्माण विभाग/ग्रामीण निर्माण विभाग भिकियासैंण द्वारा किया जायेगा।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र ने कहा कि उच्च शिक्षा में रिक्त पदो की भर्ती के साथ-साथ माध्यमिक शिक्षा, तकनीकी शिक्षा सहित अन्य संस्थानों में आउटसोर्स के माध्यम से रोजगार दिलाये जाने का निणर्य लिया गया है। उन्होंने कहा कि सरकार का मुख्य ध्यान शिक्षा की मजबूती पर है। यह तभी सम्भव होगा जब विद्यालयों का क्लबिंग किया जायेगा। इससे शिक्षा की गुणवत्ता में ओर अधिक सुधार आयेगा। उन्होंने कहा कि सेना में जो लोग सेवा के दौरान अपंग हो जाते है, उनके लिए देहरादून में एक हाॅस्टल की स्थापना पूर्व में की गयी थी। उसके लिए 02 करोड़ रूपये की धनराशि शासन द्वारा जारी कर दी गयी है, ताकि हाॅस्टल में रह रहे बच्चों को सुविधा मिल सके। उन्होंने कहा कि उपनल में केवल सैनिको के आश्रितों को नौकरी दी जायेगी।
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र ने कहा कि द्वितीय विश्व युद्ध में शहीद हुए सैनिको के आश्रितों को अब 04 हजार रूपये के स्थान पर 8 हजार रूपये मासिक पेंशन दी जायेगी। अर्द्धसैनिक बल में शहीद होने पर उनके आश्रितों को राजकीय सेवा में लिया जायेगा।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओं में और अधिक सुधार के लिए ठोस प्रयास किये जा रहे है, जिसके लिए टैलीमेडिसिन, टैली रेडियोलाॅजी के माध्यम से सीधे चिकित्सकों से परामर्श एवं उपचार उपलब्ध हो पायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में 108 की सेवाओं को व्यवस्थित ढ़ग से संचालित किये जाने हेतु 35 गाड़ियों के लिए टैण्डर निकाल दिये गये है, ताकि लोगो को स्वास्थ्य सुविधा मिल सके। पर्यटन को बढावा देने के लिए प्रदेश में 13 नये पर्यटन स्थलों को विकसित किया जायेगा। उन्होंने बताया कि ऋषिकेश में 600 एकड़ भूमि में कनवैन्सन सेन्टर की स्थापना की जा रही है। उन्होंने कहा कि लोगो को कृषि की ओर प्रेरित करने के लिए स्वैच्छिक चकबन्दी कार्यक्रम को बढ़ावा दिया जा रहा है, जिसकी शुरूआत स्वयं मेरे एवं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के पैतृक गाॅव से की जा रही है। उन्होंने कहा कि हमें कृषि के प्रति ध्यान देना होगा और सामूहिक खेती को बढ़ावा देना होगा।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने उत्तराखण्ड गौरव सम्मान से भूपेन्द्र सिंह, श्रीमती रीता नेगी, श्रीमती दीपा साह कोश्यारी, सुभागिंनी शाह, विजय बहादुर, भवानी बिष्ट सहित अमर उजाला, दैनिक जागरण और हिन्दुस्तान के तीन पत्रकारों को भी सम्मानित किया। इस अवसर पर विद्यालयी छात्र-छात्राओं द्वारा अनेक रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किये।

इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री श्रीमती रेखा आर्या, सल्ट के विधायक श्री सुरेन्द्र जीना, विधायक श्री महेश नेगी, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष श्री अजय भट्ट, जिलाधिकारी श्रीमती इवा आशीष श्रीवास्तव, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पी0 रेणुका देवी सहित अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे।

About News Trust of India

News Trust of India is an eminent news agency

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!

ăn dặm kiểu NhậtResponsive WordPress Themenhà cấp 4 nông thônthời trang trẻ emgiày cao gótshop giày nữdownload wordpress pluginsmẫu biệt thự đẹpepichouseáo sơ mi nữhouse beautiful