OPINION

बुरी लत पड़ने पर नए रास्ते खोजने की जरुरत है क्या

चीन के लोग सड़कों पर पैदल चलते हुए मोबाइल फोन के इस्तेमाल की लत को छोड़ नहीं पा रहे हैं और इस नशे से पीड़ित लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है. ऐसे में दुर्घटनाओं को रोकने के लिए, चीन में अलग से मोबाइल फोन लेन बनाई गई है. जो लोग सड़कों पर चलते हुए अपने मोबाइल फोन का इस्तेमाल ...

Read More »

हर चौथवा भारतीय है ऑनलाइन धोखाधड़ी का शिकार

भारतीय अब डिजिटल रूप से अधिक सक्रिय होते जो रहे हैं और इसके साथ ही उनके साथ वित्तीय धोखाधड़ी का जोखिम भी बढ़ रहा है. एक रिपोर्ट में कहा गया है कि चार में से एक भारतीय ग्राहक ऑनलाइन वित्तीय धोखाधड़ी का शिकार बनता है. वैश्विक वित्तीय सूचना कंपनी एक्सपेरियन की रिपोर्ट में कहा गया है कि 24 प्रतिशत भारतीय ...

Read More »

रिफाइंड ऑयल आपकी सेहत के लिए है खतरा

आज के समय में कुकिंग के लिए जिस ऑयल का इस्तेमाल किया जाता है, वह है रिफाइंड ऑयल। आजकल आपको टीवी में कई तरह के रिफाइंड ऑयल यह दावे करते हुए नजर आ जाएंगे कि वह आपकी सेहत का ख्याल रखेंगे। इन्हें देखकर लोग भी यह मानने लगते हैं कि यह सेहत को किसी तरह का नुकसान नहीं पहुँचाते जबकि ...

Read More »

लोकतंत्र हमारा, मीडिया तुम्हारा!

(भूपेश पंत) देश में अगले आम चुनाव के लिये सियासी ऊंट करवटें लेने की तैयारी कर रहा है और लोकतंत्र के चौथे खंभे यानी मीडिया ने हर दल का अपने अपने तरीके से सियासी मूल्यांकन करना भी शुरू कर दिया है। उनकी गिद्ध दृष्टि केंद्र और विपक्ष के सियासी नफा नुकसान के लिहाज़ से ज़मीन पर रेंग रहे मुद्दों पर ...

Read More »

टेरर फंडिंग नेटवर्क का मास्टरमाइंड पुणे से गिरफ्तार

यूपी और महाराष्ट्र एटीएस की टीम ने टेरर फंडिंग नेटवर्क के मास्टरमाइंड रमेश शाह को पुणे से गिरफ्तार किया है. यूपी एटीएस को 24 मार्च को गोरखपुर से गिरफ्तार आरोपियों से रमेश शाह की जानकारी मिली थी. जिसके बाद यूपी एटीएस ने महाराष्ट एटीएस से संपर्क किया और 19 जून को टेरर फंडिंग नेटवर्क के मास्टरमाइंड को धर दबोचा. फिलहाल ...

Read More »

क्यों भारतीय ही बनते जा रहे हैं अमेरिकी कंपनियों के CEO?

अमेरिका में पढ़ाई के लिए हर साल भारत के मुकाबले चीन से दोगुने से भी ज्यादा छात्र जाते हैं लेकिन इसके बावजूद दुनिया की बड़ी अमेरिकी कंपनियों में CEO ज्यादातर भारतीय बन रहे हैं न की चीन के लोग। चीन आजकल इसी सवाल का जवाब ढूंढने की कोशिश कर रहा है कि अमेरिकी कंपनियों में चीनियों मुकाबले ज्यादा भारतीय CEO क्यों बनते ...

Read More »

देश की जनता को यही सब चाहिए और कुछ नहीं ?

इन फोटोज़ में कोई तारतम्य नहीं है, लेकिन अगर मैंने लोड की हैं, तो उसका कोई तर्क मेरे पास होगा l एक में प्रधानमंत्री लोक कल्याण मार्ग (जिसे पहले रेसकोर्स रोड कहा जाता था) स्थित अपने तीन, पांच और सात नंबर के बंगलों को मिला कर बने पीएम आवास, जिसमें वे अकेले रहते हैं और जिसका कुल एरिया कम से ...

Read More »

पिक्चर अभी बाकी है….!

(भूपेश पंत, प्रधान संपादक ) अगले साल होने वाले आम चुनाव के लिए बीजेपी की ओर से बिसात बिछनी शुरू हो गई है। मेरा मानना है कि जम्मू कश्मीर में सरकार को गिराने का यह फैसला दोनों दलों की नूरा कुश्ती से अधिक कुछ नहीं है और इससे होने वाला राजनीतिक ध्रुवीकरण अगले आम चुनाव और जम्मू कश्मीर के विधानसभा ...

Read More »

मध्यप्रदेश कांग्रेस की राजनीति में ‘हिंदू’ बनने की होड़

(संतोष मानव ) 6 माह की नर्मदा पदयात्रा करने वाले दिग्विजय सिंह के बारे में अब सोशल मीडिया पर तरह तरह की प्रतिक्रियाएं देखने को मिल रही हैं. हालांकि अब यह पॉजिटिव ज्यादा हैं. कांग्रेस के विचार विभाग से जुड़े भूपेंद्र गुप्ता कहते हैं- ‘जिस तरह उन्होंने भक्ति भाव से लगातार छह माह तक नर्मदा की पदयात्रा की है, उससे ...

Read More »

सम्राट अशोक में ‘ब्राह्मण’ और ‘रक्‍त पुष्‍प’ की दास्‍तान

सबर्ल्‍टन (Subaltern) साहित्‍य, दलित विमर्श के दौर में किसी उपन्‍यास का शीर्षक यदि ‘ब्राह्मण’ (The Brahmin) हो तो उसकी तरफ बरबस आकर्षण उत्‍पन्‍न होना स्‍वाभाविक है. यह आकर्षण उस वक्‍त चुंबक में तब्‍दील हो जाता है, जब पता चलता है कि इस ऐतिहासिक थ्रिलर के नायक का नाम ‘ब्राह्मण’ (The Brahmin) है और वह मगध साम्राज्‍य का सबसे प्रमुख गूढ़पुरुष ...

Read More »
error: Content is protected !!

ăn dặm kiểu NhậtResponsive WordPress Themenhà cấp 4 nông thônthời trang trẻ emgiày cao gótshop giày nữdownload wordpress pluginsmẫu biệt thự đẹpepichouseáo sơ mi nữhouse beautiful